By: Bhopalmahanagar
13-03-2019 09:10

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी में इस बार लोकसभा चुनाव में महिला नेत्रियों ने टिकट के लिए दावेदारी शुरू कर दी है। सबसे ज्यादा महिला दावेदार बुंदेलखंड क्षेत्र की चारों लोकसभा सीटों पर है। हालांकि वर्तमान में एक भी सीट से महिला सांसद नहीं है। न ही भाजपा ने किसी महिला नेत्री को पिछले लोकसभा चुनाव में टिकट दिया था। सागर से महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष लता वानखेड़े, खजुराहो से पूर्व मंत्री ललिता यादव का नाम प्रबल दावेदारों की सूची में शामिल है। 

लोकसभा चुनाव में यह पहली बार है जब भारतीय जनता पार्टी में बुंदेलखंड की चारों सीटों पर महिला नेत्रियों ने टिकट की मांग की है। सागर लोकसभा से वर्तमान में लक्ष्मीनारायण यादव सांसद हैं, इस बार पार्टी उनका टिकट काट सकती है। ऐसे में इस सीट से करीब आधा दर्जन से ज्यादा दावेदार टिकट के लिए सक्रिय हो गए हैं। यहां से लता वानखेड़े को प्रबल दावेदार माना जा रहा है। लता महिला मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष रह चुकी हैं साथ ही महिला आयोग की अध्यक्ष भी रही हैं। सागर के भाजपा नेताओं की आपसी गुटबाजी का फायदा भी लता को मिल सकता है। हालाांकि यहां से सुधा जैन, पूर्व मंत्री भूपेन्द्र सिंह की पत्नी सरोज सिंह, पूर्व विधायक पारूल साहू का नाम भी दावेदारों में शामिल है। लेकिन स्थानीय नेताओं की आपसी गुटबाजी की वजह से नेताओं की रिश्तदार महिला को लोकसभा टिकट मिलना संभव नहीं है। ऐसे में लता वानखेड़े को प्रत्याशी बनाया जा सकता है। 

 

खजुराहो से ललिता का नाम

खजुराहो सांसद नागेन्द्र सिंह का विधायक बनने के बाद यहां भाजपा नए चेहरे को उतारेगी। पूर्व मंत्री ललिता यादव का नाम खजुराहो सीट से प्रबल दावेदारों में शामिल है। पार्टी हाईकमान लक्ष्मीनारायण यादव का टिकट काटकर बुंदेलखंड में ललिता यादव को टिकट देने पर मंथन कर रहा है। भाजपा के उच्च स्तरीय सूत्रों ने बताया कि खजुराहो से ललिता को चुनाव लड़ाने से भाजपा उप्र की यादव बाहुल्य सीटों पर फायदा लेने की तैयारी में है। क्योंकि खजुराहो से सीट उप्र की लोकसभा सीटों पर अच्छा खासा यादव वोट बैंक है। यहां बता दें कि विधानसभा चुनाव में मप्र भाजपा ने ललिता को छतरपुर की जगह बड़ा मलहरा से चुनाव लड़ाया था, जहां उन्हें हार का सामना करना पड़ा। हालांकि भाजपा खजुराहो से भी विधानसभा हारी। पार्टी ने माना कि विधानसभा चुनाव में ललिता की सीट बदलने का फैसला गलत था। 

 

दमोह-टीकमगढ़ से ये दावेदार 

दमोह लोकसभा से पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया की पत्नी सुधा मलैया टिकट का दावा कर रही हैं। हालांकि यहां से प्रहलाद पटेल को फिर से चुनाव लड़ाए जाने की संभावना ज्यादा है। वहीं टीकमगढ़ लोससभा से भी महिला नेत्रियों ने टिकट की मांग की है। सागर सीट से टिकट की मांग कर रही महिला नेत्रियों ने टीकमगढ़ से भी टिकट की मांग की है। यहां बता दें कि टीकमगढ़ लोकसभा से पूर्व आईएएस शशि कर्णावत कांग्रेस प्रत्याशी हो सकती हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थामा था, चुनाव नतीजे के बाद से वे टीकमगढ़ लोकसभा क्षेत्र में सक्रिय हैं।
 

Related News
64x64

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस जहां भाजपा के कब्जे वाले लोकसभा सीटों पर बड़े नेताओं को उतारने की रणनीति पर काम कर रही है, वहीं भाजपा हर हाल में सीट बचाने की…

64x64

भोपाल। राज्य सूचना आयोग ने एक मामले में दो अफसरों पर 25-25 हजार रुपए का दंड लगाया है। तीसरे अफसर के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की अनुशंसा की गई है। यह…

64x64

इंदौर। इंदौर की समृद्धशाली परंपरा गेर को विश्व धरोहर के रूप में पहचान दिलाई जाएगी। संस्कृति विभाग के माध्यम से गेर की डॉक्यूमेंट्री और वीडियोग्राफी यूनेस्को भेजी जाएगी। इसे हेरिटेज…

64x64

भोपाल| मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी के कद्दावर नेता गोपाल भार्गव के बेटे अभिषेक भार्गव ने टिकट के लिए खुद की दावेदारी वापस ले ली है| टिकट के…

64x64

इस साल स्वाइन फ्लू की वजह से मध्य प्रदेश में काफी लोगों को जान गंवानी पड़ी है। स्वाइन फ्लू की वजह से इस साल अब तक 41 लोगों की मौत…

64x64

बुरहानपुर। निंबोला पुलिस ने शुक्रवार रात को इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर कार्रवाई करते हुए मुखबिर की सूचना पर एक कंटेनर को चुराकर ले रहे आरोपितों की घेराबंदी कर उन्हें पकड़ा।

निंबोला…

64x64

भोपाल। पिपलानी थाना इलाके में एक छात्र ने घर में सफाई कार्य और खाना बनाने वाली युवती से ज्यादती कर दर दी। जिसके बाद में लड़की ने उसके घर से…

64x64

भोपाल। मप्र में समाजवादी पार्टी बिना संगठन के ही लोकसभा चुनाव की वैतरणी पार करेगी। विधानसभा चुनाव में पार्टी का परफार्मेंस देख सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव प्रदेश कार्यकारिणी पहले ही…