By: Bhopalmahanagar
10-04-2019 07:00

अमेरिका की चिंता को दरकिनार कर आखिरकार फ्रांस ने गूगल और फेसबुक जैसी दिग्गज इंटरनेट कंपनियों पर नया टैक्स लगाने को मंजूरी दे दी है। इस इंटरनेट टैक्स को गाफा (गूगल, अमेजन, फेसबुक और एपल) नाम दिया गया है। हालांकि, अमेरिका ने इस पर कड़ा विरोध दर्ज कराते हुए अपने नाटो सहयोगी फ्रांस से इस विचार को त्यागने का आग्रह किया था।  
विज्ञापन

फ्रांस के संसद में सोमवार को चली लंबी चर्चा और वोटिंग के बाद सांसदों ने इंटरनेट टैक्स को मंजूरी दे दी। फ्रांसीसी वित्त मंत्री ब्रूनो ले माइरे ने कहा कि फ्रांस को इस तरह का कदम उठाने पर गर्व है। नेशनल एसेंबली में इस प्रस्ताव को 55 मत के साथ मंजूर किया गया, जबकि इसके विरोध में 4 मत पड़े। 5 सांसदों ने मतदान में भाग नहीं लिया। इसे कानून बनने से पहले सीनेट या उच्च सदन में मतदान के लिए रखा जाएगा। इस कानून को गाफा (गूगल, अमेजन, फेसबुक और एपल) नाम दिया गया है।

यह ऐसे समय आया है, जब दुनिया की सबसे अमीर कंपनियों में से कुछ कंपनियों को कम टैक्स का भुगतान करने की वजह से नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है। वित्त मंत्री ब्रूनो ने संसद में मतदान से पहले कहा कि फ्रांस को इस तरह के विषयों पर अगुवाई करने में गर्व महसूस हो रहा है। यह मसौदा 21वीं सदी के लिए अधिक प्रभावी और निष्पक्ष टैक्स प्रणाली की दिशा में एक कदम है।

3 फीसदी टैक्स का मसौदा किया था पेश
फ्रांस के वित्त मंत्री ब्रूनो ने कहा कि यह अस्वीकार्य है कि डिजिटल क्षेत्र की दिग्गज कंपनियां उपभोक्ताओं के आंकड़ों से भारी मुनाफा कमाती हैं, लेकिन फ्रांस में होने वाले लाभ पर विदेश में टैक्स लगाया जाता है। पिछले महीने फ्रांस ने डिजिटल विज्ञापन, किसी भी प्रौद्योगिकी कंपनी जो व्यक्तिगत डेटा की बिक्री और अन्य राजस्व से दुनियाभर में हर साल 75 करोड़ यूरो (84 करोड़ डालर) से अधिक कमाती है, उस पर तीन प्रतिशत टैक्स लगाने के लिए मसौदे को पेश किया था। आयरलैंड जैसे कम टैक्स वाले देशों द्वारा बड़ी तकनीकी कंपनियों को लुभाने वाले यूरोपीय संघ के व्यापक प्रयास के बाद फ्रांस राष्ट्रीय स्तर पर कानून पर सहमति बनाने की मांग कर रहा है। 

अमेरिकी ने की थी योजना टालने की अपील
अमेरिका ने फ्रांस से इस योजना को टालने का आग्रह किया था, लेकिन फ्रांस ने इसे अनसुना कर दिया। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा था कि यह योजना अमेरिकी कंपनी और फ्रांस के नागरिकों दोनों को प्रभावित करेगा, जो इन प्लेटफार्म का इस्तेमाल करते हैं।

Related News
64x64

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से सिंगापुर व हनोई शिखर वार्ताओं के बावजूद उत्तर कोरिया पर लगाए गए प्रतिबंधों में ढील न मिलने से बौखलाए नेता किम जोंग-उन ने लंबे अर्से…

64x64

जेनेवा । विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक त्रिपोली में 205 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से 18 आम नागरिक हैं। इसके अलावा दो सप्ताह की लड़ाई में…

64x64

नई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया जापान के युवराज नारुहितो के सम्राट बनने के बाद उनसे मुलाकात करने वाले पहले विदेशी राजकीय अतिथि होंगे. व्हाइट…

64x64

किंगडम ऑफ सऊदी अरब मध्य-पूर्व का सबसे बड़ा देश है. सऊदी का क्षेत्रफल 20.24 लाख वर्ग किलोमीटर है और इस हिसाब से यह दुनिया का 14वां सबसे बड़ा देश है.

64x64

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार को आए भीषण तूफान और बारिश में  पाकिस्तान के पंजाब और सिंध प्रांतों में कम से कम 39 लोगों की मौत हो गई और…

64x64

दुबई में चोरी करना दो भारतीयों को महंगा पड़ गया. दुबई की एक अदालत ने दो भारतीय समेत एक पाकिस्तानी नागरिक को एक फूड केटरिंग कंपनी की ब्रांच से 900…

64x64

पेरिस का 850 साल पुराना मशहूर नॉट्र डाम कैथेड्रल सोमवार को आग की चपेट में आकर आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गया.

जहां एक तरफ आग लगने के कारणों को…

64x64

भारत में 11 अप्रैल से दुनिया का सबसे विशाल लोकतांत्रिक चुनाव शुरू हो चुका है.

90 करोड़ भारतीय इस चुनाव में मतदान करने के क़ाबिल हैं. इस बार भारत भर…