By: Bhopalmahanagar
15-04-2019 07:22

लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उस दावे पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हमला किया है, जिसमें पार्टी यह दावा करती है कि देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों में सुरक्षित है. सीएम कमलनाथ ने पीएम मोदी पर रविवार को निशाना साधते हुए कहा कि जब उन्होंने (मोदी) पायजामा-पैंट पहनना सीखा नहीं था, तब पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी ने इस देश की फौज, एयरफोर्स और नेवी बनाई थी.

सीएम कमलनाथ ने यहां के खंडवा जिले के हरसूद में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मोदीजी आप देश की सुरक्षा की बात करते हैं. क्या 5 साल पहले (मोदी के प्रधानमंत्री बनने से पहले) देश सुरक्षित हाथों में नहीं था?’ उन्होंने आगे कहा, ‘मोदी जी जब आपने पायजामा और पैंट पहनना सीखा नहीं था, तब जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी ने इस देश की फौज बनाई थी, एयरफोर्स बनाई थी, नेवी बनाई थी. और आप कहते हो देश आपके हाथ में सुरक्षित है.’

BJP सरकार में सबसे ज्यादा हमले

बीजेपी पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने कहा, ‘सबसे ज्यादा आतंकवादी हमले किसकी सरकार में हुए? किसके कार्यकाल में हुए? किसकी सरकार थी दिल्ली में जब संसद पर आतंकी हमला हुआ? बीजेपी की सरकार थी और आंकड़े बताते हैं कि सबसे ज्यादा आतंकी हमले जब बीजेपी की सरकार रहती है, तब होते हैं.’

GST ने व्यापारियों की कमर तोड़ी


उन्होंने कहा कि मोदी जी कहते थे कि करोड़ों युवाओं को रोजगार देंगे. कितने युवाओं को रोजगार मिला है? आज भी युवा रोजगार के लिए भटक रहा है. मोदीजी कहते थे अच्छे दिन आएंगे. किसके अच्छे दिन आए? मोदी जी कहते थे काला धन आएगा. क्या काला धन आया? कमलनाथ ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार द्वारा की गई नोटबंदी ने छोटे व्यापारियों की कमर तोड़ दी.

पिता-पुत्र दोनों चुनावी मैदान में

बता दें कि मुख्यमंत्री कमलनाथ छिंदवाड़ा विधानसभा और उनके पुत्र नकुलनाथ छिंदवाड़ा संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में चुनावी मैदान में हैं. मध्य प्रदेश की राजनीति में यह पहला उदाहरण है जब पिता और पुत्र एक ही जिले से एक ही दल से लोकसभा और विधानसभा का चुनाव लड़ने जा रहे हैं. कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद छिंदवाड़ा से निर्वाचित विधायक दीपक सक्सेना ने कमलनाथ के लिए विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. अब छिंदवाड़ा विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव होने जा रहा है. कमलनाथ इससे पहले 9 बार छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र से निर्वाचित हो चुके हैं. 17 दिसंबर 2018 को कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और उस तारीख से 6 माह की अवधि के भीतर उन्हें विधायक निर्वाचित होना आवश्यक है.
 

Related News
64x64

पिछले कुछ दिनों से नाराज चल रही कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। वह कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता और पार्टी के मीडिया सेल की संयोजक…

64x64

महीनों से सैलरी न मिले और फिर जॉब भी चली जाए तो सोचिए क्या गुजरेगी। जेट एयरवेज की लैंडिंग से हजारों कर्मचारी और उनके परिवार इसी पीड़ा से गुजर रहे…

64x64

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने हाल ही में कहा था कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने को लेकर दिया गया बयान कांग्रेस के…

64x64

ओडिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलिकॉफ्टर की तलाशी लेने वाले आईएएस अधिकारी को निलंबित कर दिया गया था. इस पर पूर्व चुनाव आयुक्त डॉ. एसवाई कुरैशी ने बड़ा बयान…

64x64

भारतीय जनता पार्टी से अलग होकर कांग्रेस के टिकट पर पटना साहिब से चुनाव लड़ रहे शत्रुघ्न सिन्हा गुरुवार को लखनऊ में गठबंधन की संयुक्त प्रत्याशी और पत्नी पूनम सिन्हा…

64x64

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में एक युवक ने अपने हाथ की उंगली इसलिए काट डाली क्योंकि मतदान के दौरान गलती से उसने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को वोट दे दिया.…

64x64

 नई दिल्‍ली । आज उत्‍तर प्रदेश की जिन आठ सीटों पर लोकसभा चुनाव के तहत वोटिंग हो रही है, उनमें सबसे दिलचस्‍प मुकाबला मथुरा का माना जा रहा है। यहां…

64x64

भारत ने शुक्रवार से जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पार व्यापार पर रोक लगा दी है। गृह मंत्रालय ने आज गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी किया है।

समाचार…